Uncategorized

दिल्ली हिंसा मामले में बीजेपी नेता कपिल मिश्रा के खिलाफ बिहार में केस

पटना : सबसे पहले, देश की राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा में 38 लोगों की मौत के बाद हालात काबू में हैं.

इसी बीच, दिल्ली हिंसा को लेकर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा पर बिहार में मामला दर्ज कराया गया है.

और, बिहार के मुजफ्फरपुर में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मुकेश कुमार की कोर्ट में केस किया गया है.

और, जिले के मीठनपुरा थाना क्षेत्र के पक्कीसराय निवासी एम राजू नैय्यर ने कपिल मिश्रा के खिलाफ परिवाद दायर किया है.

इसी प्रकार, कपिल मिश्रा पर दिल्ली में भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाया गया है.

इसलिये, सीजेएम ने मामले के सुनवाई की तारीख 12 मार्च को मुकर्रर की है.

कपिल मिश्रा पर हिंसा भड़काने का आरोप :

 

इसलिये मुजफ्फरपुर के सीजेएम कोर्ट में दायर केस में एम राजू नैय्यर ने कपिल मिश्रा पर

ऐसा होने पर भी, दिल्ली में 23 फरवरी को भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाया है.

तथापि, परिवाद में जिक्र है कि सीएए के खिलाफ धरना पर बैठे लोगों को हटाने के

लिये कपिल मिश्रा ने समर्थकों का साथ लिया. इसके बाद उनके समर्थक आगे बढ़े और पथराव किया.

इसी घटना के बाद दिल्ली का माहौल बिगड़ गया. दिल्ली में हुई हिंसा में कई लोगों की मौत हुई और दर्जनों लोग घायल हुए.

परिवाद की सीजेएम कोर्ट में सुनवाई 12 मार्च को होगी.

दिल्ली पुलिस को तीन दिन का अल्टीमेटम :

कपिल मिश्रा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था.

उदाहरण के लिए, कपिल मिश्रा उत्तर-पूर्व दिल्ली के मौजपुर क्षेत्र में जाफराबाद के निकट सीएए के पक्ष में रैली का नेतृत्व किया था.

इसी दौरान, उन्होंने सीएए का विरोध करने वालों को हटाने के लिए पुलिस को तीन दिन का अल्टीमेटम दिया था.

सबसे ऊपर, आरोप है कि इसी अल्टीमेटम के बाद देश की राजधानी दिल्ली का माहौल बिगड़ा.

तो फिर इसके बाद दिल्ली के कई इलाकों में जमकर हिंसा की घटनाएं सामने आईं.

इसलिए, हिंसा के  मामले की जांच में दिल्ली की पुलिस जुटी हुई है.

source by :- prabhat khabar

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button