Headlinesझारखंडराज्य

झारखंड में कोरोना का कहर, 15 नए मामलों के साथ Covid-19 पॉजिटिव की संख्या हुई 82

झारखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। रविवार को राज्य से 15 संक्रमित मरीज मिले। इसके साथ ही कुल पाॅजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 82 हो गई।

झारखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। रविवार को राज्य से 15 संक्रमित मरीज मिले। इसके साथ ही कुल पाॅजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 82 हो गई। इसमें रांची से 13 और गढ़वा से दो मरीजों के मिलने की पुष्टि स्वास्थ्य सचिव ने की है। छह मामले हिंदपीढ़ी से मिले हैं, इसमें चार पुरुष व दो महिला कोरोना पाॅजिटिव है। एक पिस्का मोड़ निवासी जो 108 एंबुलेंस का ड्राइवर है। पांच सदर अस्पताल के स्टाॅफ हैं। इसमें से चार नर्स और एक यहां कार्यरत गार्ड है। इसके साथ गुरुनानक स्कूल के एक सफाई कर्मी में भी कोरोना पाजिटिव की पुष्टि हुई है। गढ़वा जिले से एक महिला और एक पुरुष कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं।

रिम्स के निदेषक डाॅ डीके सिंह ने बताया कि कुल 242 कोरोना सैंपल की जांच की गई थी। इसमें से 227 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आयी और नौ की पाॅजिटिव रिपोर्ट आयी। इससे पहले दिन में 78 सैंपल जांचे गए थे, जिसमें 72 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आयी और छह की रिपोर्ट पाॅजिटिव आयी थी। इस तरह शाम तक कुल 15 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव पायी गई। फिलहाल सभी संक्रमित मरीजों को रिम्स के कोविड वार्ड में भर्ती करया जा रहा है और उनके परिजनों को कोरंटाइन में रख सैंपल लिया जा रहा है।

सैंपल लेकर क्वारंटाइन में रखा गया था सभी संदिग्ध नर्साें को
रांची सदर अस्पताल में पिछले दिनों कोरोना पाॅजिटिव महिला के प्रसव के बाद सभी नर्सों को कोरंटाइन में रखा गया था। सिविल सर्जन डाॅ वीबी प्रसाद ने बताया कि सभी को स्थानीय राजस्थान होटल में रखा गया था। इस बीच सभी का सैंपल लिया गया जिसके बाद तीन नर्स व एक गार्ड में पाॅजिटिव पाया गया है। अब सभी संक्रमितों का इलाज कोविड वार्ड में किया जाएगा।

सैंपल कलेक्शन में हुआ संक्रमित
एंबुलेंस चालक के बारे में बताया जा रहा है कि वो स्वास्थ्य विभाग की ओर से जगह-जगह पर लोगो का सैंपल कलेक्शन करने वाली मोबाइल वैन चलाया करता है। जिस कारण संभावना जतायी जा रही है कि वो संक्रमित हुआ। सदर अस्पताल की पांच स्टाॅफ संक्रमित होने का कारण कुछ दिन पहले एक पाॅजिटिव महिला के प्रसव से होना बताया जा रहा है। इनमे से एक नर्स रामनगर चुटिया, दूसरी पिस्का मोड़, तीसरी अनंतपुर ओवर ब्रीज की है। सभी को कोरंटाइन में रखा गया था। चार दिन पहले ही इन्होंने अपना सैंपल जांच के लिए दिया था।

गुरुनानक स्कूल का संक्रमित 22 वर्ष बिहार के गया जिले का रहने वाला है। वह 17 अप्रैल से गुरुनानक स्कूल में सफाई कर्मी का काम कर रहा है। यह युवक ओडिषा में मजदूरी किया करता था। मार्च के अंतिम सप्ताह में यह अपने चार दोस्तो के साथ ओडिशा से गया जा रहा था। पुलिस ने इसे ओवरब्रिज के सामने इन पांचों को पकड़ कर कोरंटाइन कर दिया। 16 तक कोरंटाइन में रखने के बाद जब इन लोगो की रिपोर्ट नेगेटिव आई तो चुटिया थाना द्वारा ने इन पांचों को गुरुनानक स्कूल में सफाईकर्मी का काम दिला दिया। लेकिन इनमे से एक व्यक्ति भाग निकाला। चार गुरुनानक स्कूल में काम कर रहे थे। इन्हीं में से एक दूसरी जांच में संक्रमित निकला।

अभी तक का सबसे अधिक मामला
राज्य में अभी तक का सबसे अधिक संख्या में कोरोना मरीजों के मिलने के बाद प्रषासन के होष उड़ गए हैं। रविवार को एक ही दिन 15 मामले मिलने से सभी लोग काफी चिंतित हैं। रांची में भी अभी तक इतनी 13 मरीजों के मिलने से पूरी व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं।

रांची में किन इलाको में फैला संक्रमण
हिंदपीढ़ी, कांटाटोली, पिस्का मोड़, लोवाहिड, अनंतपुर, ओवर ब्रीज, गुरुनानक स्कूल, पीपी कम्पाउंड।

कब-कब मिले मामलें
31 मार्च : रांची के हिंदपीढ़ी इलाके से 22 वर्षीय मलेशियाई महिला कोरोना पॉजिटिव मिली।
02 अप्रैल : हजारीबाग के विष्णुगढ़ का रहने वाला युवक मिला कोरोना पॉजिटिव।
05 अप्रैल : बोकारो की महिला में कोरोना की पुष्टि हुई, वह बंग्लादेश से लौटी थी।
06 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से एक 54 वर्षीय महिला में कोरोना संक्रमित पायी गई।
08 अप्रैल : हिंदपीढ़ी के पांच, बोकारो के चंद्रपुरा में तीन और गोमिया में एक मरीज कोरोना पॉजिटिव पाये गये। इस दिन कुल नौ मरीज की पुष्टि हुई।
09 अप्रैल : बोकारो के चंद्रपुरा के एक मरीज में कोरोना की पुष्टि हुई।
11 अप्रैल : हिंदपीढ़ी, हजारीबाग और कोडरमा से 1-1 मरीज में कोरोना की पुष्टि हुई।
12 अप्रैल : बोकारो के गोमिया के साड़म में दो कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई।
13 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से तीन, बोकारो व गिरिडीह से 1-1 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, कुल पांच मिलें।
14 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से 2 और सिमडेगा से एक मरीज मिलें।
15 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से एक मरीज पॉजिटिव पाया गया।
16 अप्रैल : धनबाद के कुमारधुबी का एक मरीज कोरोना पॉजिटिव पाया गया।
17 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से 3 कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई।
18 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से 1, धनबाद के हीरापुर से 1 मरीज में कोरोना की पुष्टि। रांची के बरियातू में रहने वाले रिटायर्ड डीडीसी में कोरोना की पुष्टि।
19 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से 5, बेड़ो से 1 और सिमडेगा से 1 मरीज में कोरोना की पुष्टि।
20 अप्रैल : हिंदपीढ़ी से 1, बोकारो से 1 व हजारीबाग से 1 कोरोना पॉजिटिव मरीज।
22 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी के 3 और गढ़वा से 1 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई।
23 अप्रैल : रांची के हिंदपीढ़ी से 7 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई।
24 अप्रैल : देवघर से 1 और रांची के हिंदपीढ़ी से 2 कोरोना मरीज की पुष्टि।
25 अप्रैल : हिंदपीढ़ी से 4, कांटाटोली से 1 और पलामू के लेस्लीगंज से 3 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि।
26 अप्रैल : हिंदपीढ़ी से छह, पिस्का मोड़ से एक, सदर अस्पताल से पांच, गुरुनानक स्कूल से एक, गढवा से दो मरीज मिले। कुल 15 मरीज मिलें।

source by : https://www.livehindustan.com/

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: