Headlinesझारखंड

पलामू : समाज सेवा व किसी का जीवन बचाना ही अजय की पुरानी फितरत है

रक्तदान महादान है। यह बात युवा नेता सह समाजसेवी- अजय कुमार गुप्ता ने कही। बता दें कि उन्होंने मंगलवार की शाम 4 बजे अपने पैतृक गांव गवरलेटवा से तकरीबन 70 किलोमीटर दूर मेदिनीनगर ब्लड बैंक में जाकर जरूरतमंद एक महिला को रक्त दिए। इस दौरान युवा नेता- श्री गुप्ता ने कहा कि रक्तदान कर, कई लोगों को नया जीवन दिया जा सकता है।

पलामू : रक्तदान महादान है। यह बात युवा नेता सह समाजसेवी- अजय कुमार गुप्ता ने कही। बता दें कि उन्होंने मंगलवार की शाम 4 बजे अपने पैतृक गांव गवरलेटवा से तकरीबन 70 किलोमीटर दूर मेदिनीनगर ब्लड बैंक में जाकर जरूरतमंद एक महिला को रक्त दिए। इस दौरान युवा नेता- श्री गुप्ता ने कहा कि रक्तदान कर, कई लोगों को नया जीवन दिया जा सकता है।

रक्त देने से शरीर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। उन्होंने कहा कि कई रक्तदाता रक्तदान करने से डरते हैं। हालाकि धीरे-धीरे इसका महत्व अब लोग समझने लगे हैं। रक्तदान के प्रति जागरूकता का माहौल भी देखने को मिलने लगा है।

पलामू

फिर भी ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को रक्तदान करने से डर लगता है। जबकि हम सब युवाओं का दायित्व बनता है कि उनको जागरूक करें, जिससे किसी की जिंदगी सही वक्त पर बचाई जा सके।

यदि किसी की जिंदगी बचती है तो आपको जो संतुष्टि का एहसास होगा उसे शब्दों में भी बया नहीं कर सकते। उन्होंने युवाओं से आग्रह करते हुए कहा कि इसके लिए हम सभी को मिलकर आगे आना होगा।

बरडीहा थाना प्रभारी- बलिराम सिंह हुए निलंबित

रक्तदान के प्रति रक्तदाताओं में बन रही गलत भावनाओं को जड़ से उखाड़ फेंकना होगा। खाश बात तो यह कि अजय गुप्ता ने यह चौथी बार रक्तदान की है। जरूरतमंदों को रक्त देकर, जीवन बचाने के लिए वे हर समय उत्सुक रहते हैं। समाजसेवा करना व किसी का जीवन बचाना ईनकी पुरानी फितरत है।

संवाददाता- विवेक चौबे

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: