Headlinesझारखंड

छठ को लेकर साफ-सफाई जोरों पर

छठ को लेकर साफ-सफाई जोरों पर

गढ़वा : प्रसिद्ध सतबहिनी झरना तीर्थ व पर्यटन स्थल झारखण्ड राज्य के सभी तीर्थों व पर्यटन स्थलों में से एक है। यह गढ़वा जिले के कांडी प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत सरकोनी पंचायत में स्थित है।

यहां सालों भर झर-झर झरते मनोरम झरना के कारण यह स्थल प्रसिद्ध है, जहाँ झारखण्ड राज्य के सभी जिलों के अलावे दिल्ली, राजस्थान, बिहार, छतीसगढ़, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश सहित आधा से अधिक राज्यों के पर्यटकों का आवागमन जारी रहता है।

छठ पूजा कैसे मनाया जाता है

इस स्थल में बहती पंडी नदी में स्नान कर, श्रद्धा पूर्वक मां सतबहिनी का दर्शन कर आशीर्वाद पा लेने से हर मन्नत अवश्य पूरी होती है। यहां बजरंग बली, शिव भगवान, गणेश जी महाराज, काली के अलावे सूर्य मंदिर सहित कई अन्य भी मंदिर है।

सूर्य मंदिर अवस्थित होने के कारण दूर-दूर से आस्था के महापर्व छठ में व्रती पहुंचकर व्रत किया करते हैं। प्रसिद्ध सतबहिनी झरना तीर्थ स्थल में स्थित सूर्य मंदिर के आस-पास के क्षेत्रों में छठ पर्व को लेकर साफ-सफाई जोरों पर है।

छठ पूजा कैसे मनाया जाता है

इस सम्बंध में कार्यकारी अध्यक्ष सह भाजपा नेता- अजय कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि झारखण्ड राज्य हिन्दू धार्मिक न्यास बोर्ड के तहत श्रद्धालुओं, व्रतियों व पर्यटकों के लिए हर सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि दूर-दराज से आने वाले छठ व्रतियों के लिए पंडाल की व्यवस्था की गई है, जिससे कि लोग ठंड व ओस से बच सकें।

उन्होंने कहा कि दूर से छठ व्रतियों के साथ आने वाले लोगों को शाम में भोजन, सुबह में चाय व छोटे बच्चों के लिए दूध का व्यवस्था उपलब्ध रहेगा। सभी मंदिरों के अलावे सूर्य मंदिर में विशेष रूप से साज-सजावट किया जाएगा। पूरे क्षेत्र को टावर से प्रकाशित किया जाएगा। क्षेत्र के दोनों हिस्से यानी पूरब व पश्चिम में मोटर के माध्यम से पीने के लिए पानी का व्यवस्था किया जाएगा।

महिलाओं को कपड़े बदलने के लिए घेराव किया जाएगा, जहां आसानी से पर्दे के भीतर वे कपड़े बदले सकेंगी। साफ-सफाई करने व पंडाल लगाने में सुकन साह, लल्लू रजवार, प्रवेश पाल, लल्लू पाल सहित अन्य मजदूर भी लगे थे।

वहीं मंगलवार से और भी मजदूरों की संख्या बढ़ा दी जाएगी, जहां जेसीबी को भी लगाया जाएगा। छठ व्रतियों के लिए सभी प्रकार की विधि-व्यवस्था व साफ-सफाई को लेकर तैयारियां युद्ध स्तर पर यहां चल रही हैं।

श्री सिंह ने छठ व्रतियों से आग्रह करते हुए कहा है कि आस्था के महापर्व छठ को लेकर यहां पहुंचकर व्रत अवश्य करें। सभी छठ व्रतियों का स्वागत है।

संवाददाता- विवेक चौबे

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: