Headlinesअंतरराष्ट्रीय खबरेंट्रेंडिंग

तानाशाह पर नया ट्विस्ट, क्या दुनिया के सामने आया किम जोंग का हमशक्ल? असली-नकली पर नया बवाल

तानाशाह पर नया ट्विस्ट, क्या दुनिया के सामने आया किम जोंग का हमशक्ल? असली-नकली पर नया बवाल

तानाशाह पर नया ट्विस्ट : नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन रहस्यमयी तरीके से करीब 20 दिनों तक गायब रहने के बाद जब सार्वजनिक तौर पर दुनिया के सामने आए, तो लगा जैसे उनकी खराब तबीयत, ब्रेन डेड और मौत जैसी अटकलों पर विराम लग गया। मगर ऐसा होता दिख नहीं रहा है, क्योंकि तानाशाह किम जोंग को लेकर नए तरह की बातें सामने आ रही हैं, जिसकी पुष्टि अगर हो जाती है तो दुनियाभर में हड़कंप मच सकता है। किम जोंग उन को लेकर एक नई थ्योरी सामने आई है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि 20 दिनों तक रहस्यमयी तरीके दुनिया की नजरों से दूर रहने के बाद सार्वजनिक तौर पर जो किम जोंग उन दिखाई दिए थे, दरअसल वह असली तानाशाह नहीं थे, बल्कि उनका हमशक्ल था। हालांकि, यह याद रहे कि यह महज एक दावा है, जिसकी सच्चाई की पुष्टि अभी तक नहीं हुई है।

11 अप्रैल के बाद से गायब रहने वाले तानाशाह किम जोंग उन पहली बार 1 मई को राजधानी प्योंगयांग के पास सेंचोन में एक उर्वरक कारखाने में एक समारोह में नजर आए थे। इस दौरान स्टेट मीडिया ने किम जोंग उन की कई तस्वीरें जारी की थीं। इन तस्वीरों को साझा कर ब्रिटेन के टोरी की पूर्व सांसद लुईज मेंश ने दावा किया है कि इनमें जो शख्स नजर आया रहा है, वह किम जोंग उन नहीं हैं। उन्होंने कहा कि तस्वीरों में दांत और दूसरी चीजों से साफ अंतर पता चलता है। इनके अलावा, सोशल मीडिया पर अन्य कई लोगों ने ऐसा ही दावा किया है।

ब्रिटेन के टोरी की पूर्व सांसद लुईज मेंश ने कई तस्वीरों को साझा किया और ट्वीट किया, ‘यह वही शख्स नहीं है। तस्वीरों में दांत और दूसरी चीजों से साफ फर्क पता चलता है। यह पूरी तरह से अलग है।’ हालांकि, उनके ट्वीट खंगालने पर पता चलता है कि उन्होंने इसे डिलीट कर दिया है।

डेली मेल के मुताबिक, पूर्व सांसद लुईज मेंश ने लिखा है कि ये वही शख्स नहीं है। मगर मैं इस पर बहस नहीं कर सकती। ऐसा नहीं हो सकता कि मेरी जानकारी सही नहीं हो। यह गलत नहीं हो सकता। लुईस मेन्श ने कहा है कि उन्हें नहीं पता कि इस आइडिया के साथ आगे बढ़ना ठीक है या नहीं, मगर ये दोनों एक नहीं हैं।

सोशल मीडिया पर शेयर की जा रहीं तस्वीरों को ट्वीट करते हुए ब्रिटेन की पूर्व सांसद लुइज मेंश ने जो दावा किया है, उन तस्वीरों में अंतर साफ पता चल रहा है। इन तस्वीरों को गौर से देखने पर पता चलेगा कि इनके दांत अलग-अलग हैं। हालांकि, इनमें से एक जो एक तस्वीर है, उसे लेकर कहा जा रहा है कि उसके साथ छेड़छाड़ हुआ है।  इसकी वजह यह है कि एक मई को राजधानी प्योंगयांग में उर्वरक फैक्ट्री में ली गईं उनकी लेटेस्ट तस्वीरों से मैच नहीं करतीं।

सोशल मीडिया पर  कुछ लोगों का मानना है कि स्टेट मीडिया ने जो तस्वीरें जारी की हैं, वो किम जोंग उन के हमशक्ल की है। ऐसा उनके दांत, कलाई पर निशान और कान के आकार में दिख रहे अंतर के आधार पर दावा किया जा रहा है। तानाशाह किम जोंग उन के कान को लेकर संदेह किया जा रहा है, जिसमें पुरानी और अभी की तस्वीर में उनके कानों की गोलाई में अंतर दिख रहा है। मगर यह भी दावा किया जा रहा है कि जिन फोटो से तुलना की गई है, वह काफी पुरानी तस्वीर है। इस वजह से यह अंतर दिख रहा है।

ब्लॉगर जेनिफर जेंग ने कई तस्वीरें साझा की हैं, जो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। उन्होंने ट्वीट किया, क्या 1 मई को दिखने वाले किम जोंग उन असली थे? चार चीजों को गौर से देखने की जरूरत है- 1. दांत, 2. कान, 3. बाल, 4. बहन। जेंग ने किम जोंग उन की कलाइयों पर दिख रहे निशान ने भी ध्यान खींचा है। सोशल मीडिया पर कुछ लोग किम की कलाई पर एक डॉट के निशान को दिखाकर भी असली और नकली का अंतर बता रहे हैं। इनका कहना है कि ये किम असली नहीं हैं। मगर विशेषज्ञों का कहना है कि ये निशान उनकी दिल की सर्जरी की वजह से हो सकता है।

इसके अलावा, किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग को लेकर भी दावा किया जा रहा है कि उनका भी हमशक्ल है।  सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि 1 मई के समारोह में किम जोंग उन के साथ बहन की जगह पर उनकी हमशक्ल को बैठाया गया था। हालांकि, यह भी कहा जा रहा है कि जिन फोटो से तुलना की जा रही है, वह काफी पुरानी है। बहरहाल, इन दावों की क्या सच्चाई है, इसकी पुष्टि अभी तक किसी ने नहीं की है। बता दें कि ऐसा कहा जाता है कि अपने हमशक्ल का इस्तेमाल करना तानाशाहों की परंपरा रही है। इसके पहले हिटलर, स्टालिन से लेकर सद्दाम हुसैन ने भी अपनी जगह पर हमशक्ल का प्रयोग किया है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: