Headlinesक्राइमझारखंडट्रेंडिंग

कोडरमा में मिला पॉलिटेक्निक छात्र का शव: ‘आप सब मुझे माफ कर दें’…स्‍टेटस पर इतना लिख तीन दिन पहले बोकारो से गायब हो गया था शिवम

कोडरमा में मिला पॉलिटेक्निक छात्र का शव: 'आप सब मुझे माफ कर दें'...स्‍टेटस पर इतना लिख तीन दिन पहले बोकारो से गायब हो गया था शिवम

झारखंड के बोकारो जिले के चास स्थित भगवती कॉलोनी निवासी 20 वर्षीय शिवम कुमार का शव कोडरमा के झुमरी तिलैया डैम से बरामद किया गया है। शिवम कोडरमा राजकीय पॉलिटेक्निक में माइनिंग सेकंड ईयर का छात्र था, जो 12 जून को हटिया-पटना सुपरफास्ट ट्रेन से बोकारो से कोडरमा के लिए निकला था।

उसने परिजनों को कॉलेज से सर्टिफिकेट लेने की बात कही थी। 12 जून को दोपहर तक फोन पर बात होने के बाद उसका मोबाइल बंद आने लगा। फिर उसके सोशल नेटवर्किंग साइट को खंगाला गया तो उसके स्टेटस में कुछ चौंकाने वाले मैसेज मिले। उसने स्टेटस में लिख रखा था कि आप सब मुझे माफ कर दें। इसके बाद पिता हेमंत कुमार ने 13 जून की सुबह अन्य सदस्यों के साथ कोडरमा पॉलिटेक्निक पहुंचे तो शिवम के एचओडी से पता चला कि वह कॉलेज नहीं आया और न ही कोई सर्टिफिकेट देने की सूचना दी गई थी। फिर शिवम के दोस्तों से बातचीत की तो एक हीरा नाम के युवक का पता चला, जहां वो जाने की बात किया करता था। परिजन उस सुदूरवर्ती इलाके में भी पंहुचकर खोज की, पर कोई सुराग नहीं मिला। थकहार कर 13 जून शाम को चास थाना जाकर उसके गुमशुदगी का सनहा दर्ज कराया। चास पुलिस शिवम के तलाश में लगी हुई थी, इसी बीच कोडरमा पुलिस के जरिये डेम से एक शव मिलने की सूचना मिली।

कपड़े वही पहचान मुश्किल

शव की स्थिति इतनी खराब हो चुकी है कि शिवम के शव को पहचानना मुश्किल हो रहा है। मृतक की चाची रामदुलारी ने कहा कि कपड़े तो वही है, जो वो घर से पहनकर निकला था। पर चेहरा व शरीर भ्रम पैदा कर रहे है। विश्वास नही होता कि बरामद शव शिवम के है। घटना की जानकारी के बाद विधायक बिरंची नारायण भगवती कॉलनी परिजनों को सांत्वना देने पंहुचे। उन्होंने पूरे मामले में गंभीरता से पुलिस जांच का भरोसा दिलाया है।

सिर व छाती में होल

मृतक युवक के शव का जब निरीक्षण किया, तो पता चला कि उसके सिर का पिछला हिस्सा फटा हुआ है। छाती के निचले हिस्से में गहरा छेद बना हुआ है। साथ ही गले से लेकर छाती तक गहरा जख्म है, खून के धब्बे बने हुए है। इस आधार पर मृतक के परिजनों ने बड़ी गहरी साजिश व हत्या की आशंका जाहिर की है। शिवम के सुसाइड का कोई बजह नही है। आशंका के आधार पर चास पुलिस आगे की जांच में जुट गई है। उसके मोबाइल का लास्ट कोकेशन भी हीरा नामक युवक के सुदूरवर्ती गांव में मिल रहा है। पुलिस मृतक के मोबाइल की तलाश में भी जुटी हुई है। सम्भत: उस मोबाइल में शिवम के मौत का रहस्य छिपा हो और स्प्ष्ट हो सके कि मौत आत्महत्या है या हत्या या फिर दुखद दुर्घटना का हिस्सा है।

SOURCE

 

 

Jharkhand News Ranchi

Local Ranchi News

रांची न्यूज़

Koderma News

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: