Headlinesट्रेंडिंगबिहार

Lockdown In Bihar : बिहार में 31 जुलाई तक फिर से लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

Lockdown In Bihar : बिहार में 31 जुलाई तक फिर से लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

Lockdown In Bihar : बिहार में 16 जुलाई से लेकर 31 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है। मंगलवार को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में इस पर सहमति बनी है। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ये जानकारी दी है।

वहीं पीआरडी के सचिव अनुपम कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस में जानकारी देते हुए बताया कि राज्य मुख्यालय, जिला मुख्यालय, अनुमंडल मुख्यालय, प्रखंड मुख्यालय और सूबे के सभी नगर निकायों में 16 से 31 जुलाई तक लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान रेलवे और विमान सेवा जारी रहेंगी। बसों का परिचालन बंद रहेगा। ऑटो, टैक्सी और रिक्शा का परिचालन बंद नहीं रहेगा। गृह विभाग इस संबंध में शीघ्र ही अधिसूचना जारी करेगा।

 

इस बीच बिहार गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। पिछले दो दिनों से राज्य में रोज एक हजार से अधिक कोरोना संक्रमित राज्य में मिले हैं। हालांकि बिहार में कोरोना संक्रमितों के ठीक होने का दर अभी 71 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत से काफी अच्छा है। वहीं, 12,364 कोरोना के मरीज ठीक होकर घर भी चले गए हैं।

बिहार भाजपा ऑफिस में भी कोरोना ने दी दस्तक, 24 संक्रमित मिले
राजधानी पटना के बिहार भाजपा ऑफिस के 24 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। मंगलवार बिहार प्रदेश भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कुल 110 लोगों का सैम्पल लिया गया था जिसमें 24 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

PMCH के कोरोना संक्रमित डॉक्टर की मौत, पटना एम्स में चल रहा था इलाज
राजधानी पटना से एक बड़ी खबर आ रही है, जहां पीएमसीएच के डॉक्टर की कोरोना से इलाज के दौरान पटना एम्स में मौत हो गई है। पीमसीएच के ईएनटी विभाग में पदस्थापित डॉक्टर एन के सिंह कुछ दिन पहले कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। जिसके बाद उन्हें आइसोलेट कर दिया गया था। एन के सिंह की हालत बिगड़ने के बाद डॉक्टरों ने पटना एम्स रेफर कर दिया और वहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था।

बिहार सरकार के मंत्री सहित 1116 नए कोरोना संक्रमित मिले
बता दें कि सोमवार को बिहार सरकार में ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेश कुमार कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वह दो दिन पहले जमालपुर विधानसभा क्षेत्र का दौरा कर लौटे थे। दूसरी ओर, स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य के सभी 38 जिलों में सोमवार को 1116 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई। इसके साथ ही, राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 17,421 हो गयी। वहीं, राज्य में एक डॉक्टर की भी संक्रमण से मौत हो गई। राज्य में कोरोना संक्रमण से किसी डाक्टर की मौत का यह पहला मामला है। एम्स, पटना के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 54 वर्षीय डॉ अश्वनी नंदकुलियार की मौत हो गयी। वे गया में जेनरल फिजिशियन थे और निजी क्लीनिक चलाते थे। इसके साथ ही 9 संक्रमित मरीजों की मौत हो गयी।

source by : https://www.livehindustan.com/

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button