Uncategorized

गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 535 अंक फिसला, निफ्टी 9200 के नीचे क्लोज

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आज शेयर बाजार गिरावट के साथ खुला और गिरावट के साथ ही बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आज शेयर बाजार गिरावट के साथ खुला और गिरावट के साथ ही बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स इस सप्ताह के अंतिम कार्यदिवस पर 535 अंक फिसल कर बंद हुआ, वहीं निफ्टी 9200 के नीचे आ गया है। सेंसेक्स 31,426.62 के स्तर पर खुला और दिन के उच्च स्तर 31,842.24 भी छुआ। आज उतार-चढ़ाव भरे दिनभर के कारोबार में एक समय सेंसेक्स 31,278.27 के स्तर तक आ गया था। वहीं निफ्टी 159.50 अंकों के नुकसान के साथ  9,154.40 के स्तर पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के 30 में से 22 शेयर आज नुकसान के साथ बंद हुए तो वहीं निफ्टी 50 के 40 लाल निशान के साथ आज बंद हुए। जहां तक सेक्टर की बात करें तो फार्मा को छोड़कर सभी सेक्टर नुकसान में रहे। निफ्टी बैंक, पीएसयू बैंक, फाइनेंशियल सर्विसेज और रियलिटी में भारी दबाव देखा गया।  बता दें  शुक्रवार को  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 436 अंकों के नुकसान के साथ 31,426 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक निफ्टी ने भी 9200 के नीचे अपने कारोबार की शुरुआत की।

ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज के शेयरों में तीन प्रतिशत की तेजी

ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज के शेयरों में तीन प्रतिशत से अधिक की तेजी देखने को मिली। कंपनी ने एक रुपये अंकित मूल्य के प्रत्येक शेयर पर 35 रुपये के अंतरिम लाभांश की घोषणा की, जिसके चलते यह तेजी हुई। बीएसई पर ब्रिटानिया के शेयर 3.23 प्रतिशत बढ़कर 3,043.60 रुपये और एनएसई पर 3.47 प्रतिशत चढ़कर 3,049.90 रुपये पर थे।   ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज ने गुरुवार को शेयर बाजार को बताया कि कंपनी के बोर्ड ने एक बैठक में ”वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 3,500 प्रतिशत अंतरिम लाभांश – एक रुपये अंकित मूल्य के प्रत्येक शेयर पर 35 रुपये – की घोषणा की है। शेयरधारकों को अंतरिम लाभांश का भुगतान 23 मई 2020 से पहले कर दिया जाएगा।

डॉलर के मुकाबले रुपया 25 पैसे टूटा

भारतीय रुपया शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 25 पैसे गिरकर 76.31 के स्तर पर आ गया। घरेलू शेयर बाजार में कमजोरी और विदेश में डॉलर के मजबूत होने से रुपये पर दबाव देखने को मिला।

वॉल स्ट्रीट पर तेजी खत्म होने के साथ ही एशियाई बाजार भी गिरे

वॉल स्ट्रीट पर तेजी खत्म होने के साथ ही एशियाई शेयर बाजारों में शुक्रवार को गिरावट हुई। सुधार की उम्मीद टूट जाने से शेयर बाजारों में फिर से दबाव देखने को मिल रहा है।  जापान का प्रमुख सूचकांक निक्केई 225 सुबह के कारोबार में 0.8 प्रतिशत फिसलकर 19,270.04 पर था।  दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.7 प्रतिशत गिरकर 1,901.09 पर आ गया, जबकि ऑस्ट्रेलिया का एसएंडपी / एएसएक्स 200 0.4 प्रतिशत बढ़कर 5,239.50 पर पहुंच गया। हांगकांग का हैंग सेंग 0.5 प्रतिशत गिरकर 23,860.76 पर रहा, जबकि शंघाई कंपोजिट 0.5 प्रतिशत गिरकर 2,823.29 पर था।आईएनजी के अर्थशास्त्री प्रकाश सकपाल और निकोलस मापा ने बताया कि दुनिया भर में आर्थिक नुकसान की आशंका गहराने के साथ ही निवेशकों की भावना एक बार फिर कमजोर हुई है।

9:30 बजे:  सेक्टोरियल इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी में लगभग सभी सेक्टर लाल निशान पर कारोबार कर रहे हैं। बैंक निफ्टी में 3.44 फीसद तो निफ्टी ऑटो में 1.68 फीसद की गिरावट है। वहीं फाइनेंशियल सर्विसेज 3.32, जबकि  FMCG भी 0.30 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। आईटी सेक्टर में भी 0.75 के नुकसान पर है।  MEDIA सेक्टर  में 2.63 फीसद तो  METAL में 1.26 फीसद की गिरावट दर्ज की जा रही है, जबिक फार्मा सेक्टर  में आज 0.95 फीसद की तेजी बनी हुई है। NIFTY PSU BANK में 2.30 फीसद तो NIFTY PRIVATE BANK में 3.49 फीसद की गिरावट है।

बता दें गुरुवार को सेंसेक्स 483.53 अंकों की उछाल के साथ 31,863.08 के स्तर पर बंद हुआ तो वहीं निफ्टी भी 126.60 अंक चढ़कर 9,313.90 के स्तर पर पहुंच गया था। वहीं अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.17 फीसदी की बढ़त के साथ 39.44 अंक ऊपर 23,515.30 पर बंद हुआ। वहीं नैस्डैक 0.01 फीसदी गिरावट के साथ 0.63 अंक नीचे 8,494.75 पर बंद हुआ।  एसएंडपी 0.05 फीसदी गिरावट के साथ 2,797.80 पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कम्पोजिट नुकसान के साथ बंद हुआ। हालांकि, फ्रांस, इटली, जर्मनी के बाजरों में भी बढ़त देखी गई।

source by: https://www.livehindustan.com

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: