Headlinesझारखंड

Mob lynching : स्कूटी चोरी के आरोप में नाबालिग की पत्थर से कूचकर हत्या, रेलवे ट्रैक पर फेंका शव

झारखंड के चाईबासा में स्कूटी चोरी के आरोप में दो लोगों ने एक नाबालिग की लात-घूंसों और पत्थर से कूचकर हत्या कर दी। सबूत छिपाने के लिए शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। दोनों आरोपी गिरफ्तार।

पश्चिमी सिंहभूम के मुफस्सिल में स्कूटी चोरी के आरोप में नाबालिग की दो लोगों ने लात-घूंसों और पत्थर से कूचकर हत्या कर दी। घटना शनिवार शाम सिंहपोखरिया रेलवे स्टेशन के पास की है। मृतक मृतक जगन्नाथ गोप उर्फ लादुरा गोप (14) झींकपानी के इचापुर का रहनेवाला था।

रविवार को शव बरामद होने के बाद पुलिस ने झींकपानी के रघुनाथपुर पोखरिया निवासी वीरसिंह देवगम और तिरिलपी के कुसनु बुड़ीउली को हिरासत में ले लिया है। विक्षिप्त नाबालिग जगन्नाथ शनिवार शाम आसुरा हाई स्कूल के पास खड़ी स्कूटी को देख रहा था। दो लोग पहुंचे और स्कूटी चोरी का आरोप लगा उसे सिंहपोखरिया ले गये, जहां मारपीट करने के बाद पत्थर से कूचकर हत्या कर दी।

रेलवे ट्रैक पर फेंका शव

मुफस्सिल में स्कूटी चोरी के आरोप में नाबालिग की आरोपियों ने हत्या के बाद साक्ष्य छिपाने के लिए शव को सिंहपोखरिया के पास रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। शनिवार देर रात तक जगन्नाथ गोप घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने खोजबीन की पर पता नहीं चला। रविवार सुबह घटना की जानकारी मिली। परिजन घटनास्थल पर पहुंचे और जगन्नाथ गोप के रूप में उसकी पहचान की। जिसके बाद पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लायी।

झींकपानी से दो धराए

पुलिस ने हत्या में झींकपानी के रघुनाथपुर पोखरिया निवासी वीरसिंह देवगम और तिरिलपी गांव निवासी कुसनु बुड़ीउली को हिरासत में ले लिया है। परिजनों ने बताया कि जगन्नाथ गोप की कुछ दिनों से दिमागी हालत ठीक नहीं चल रही थी। वह अचानक जहां-तहां चला जाता था, लेकिन रात को घर आ जाता था।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: