Headlinesक्राइमझारखंड

ओरमांझी हत्याकांड का खुलासा : युवती का कटा सिर खेत से बरामद, जानिये कौन है युवती और आखिर क्यों बिलाल ने की थी युवती की हत्या

ओरमांझी हत्याकांड का खुलासा : युवती का कटा सिर खेत से बरामद, जानिये कौन है युवती और आखिर क्यों बिलाल ने की थी युवती की हत्या

रांची: ओरमांझी हत्याकांड में मृतक युवती का सिर बरामद कर लिया गया है. आज दोपहर करीब एक बजे पुलिस ने चंदवे ग्राम में आरोपी शेख बिलाल के घर के पास स्थित खेत से लाश बरामद कर ली है. आज स्पेशल टीम, चंदवे पुलिस, डॉग स्क्वायड और FSL आरोपी शेख बेलाल के गांव पहुंची. यहां पुलिस टीम ने आरोपी के घर से लेकर खेत तक सिर की तलाशी शुरू की. इसी दौरान आरोपी के खेत से महिला का सिर बरामद कर लिया गया. सिर को खेत में दफनाया गया था. साथ ही उस पर नमक डाला गया था ताकि सिर गल जाए और पहचान न हो सके. इसके साथ ही पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर लिया है. जिस युवती की हत्या की गयी है, वह चान्हो थाना क्षेत्र के चटवल गांव की रहनेवाली सूफिया परवीन थी. उसकी हत्या उसके पति शेख बिलाल ने ही की थी.

बता दें कि रांची पुलिस ने 3 जनवरी को साईनाथ यूनिवर्सिटी के पीछे जंगली झाड़ियों के बीच युवती की सिरकटी लाश बरामद की थी. उसके बदन पर एक भी कपड़ा नहीं था. दो दिन पहले चान्हो थाना क्षेत्र के चटवल गांव के एक दंपती ने सिरकटी लाश की पहचान अपनी बेटी के रूप में की थी. पुलिस को दंपति ने बताया था कि उनकी बेटी सुफिया का बचपन में खाना बनाने के दौरान पैर जल गया था. रिम्स में जो शव उन्हें दिखाया गया है, उसके भी एक पैर में जले का निशान है. ऐसे में पुलिस ने तहकीकात बढ़ायी तो पूरे मामले का खुलासा हो गया.

खालिद से हुआ था सूफिया का विवाह, रह रही थी बिलाल के साथ :

सूफिया परवीन लगभग 10 महीने पहले शेख बिलाल के संपर्क में आयी. दोनों पति-पत्नी के रूप में रह रहे थे. बाद में वह बिलाल को छोड़कर एक दूसरे युवक के साथ रहने लगी. पुलिस ने सोमवार को शेख बिलाल की तस्वीर भी जारी की है. रांची के ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने कहा कि बिलाल का सुराग देनेवालों को उचित पुरस्कार दिया जायेगा. बिलाल पहले भी हत्या के एक मामले में जेल जा चुका है. बता दें कि बीते 3 जनवरी को पुलिस ने ओरमांझी थाना क्षेत्र स्थित जिराबार पलाश पतरा जंगल से एक युवती का सर कटा शव बरामद किया था. उसकी हत्या निर्ममता पूर्वक की गयी थी और उसके निजी अंगों पर धारदार हथियार से जख्म के निशान पाये गये थे.

1 साल से बेलाल से चल रही थी लड़ाई :

मृतक के माता-पिता ने शव की पहचान की थी. उन्होंने बताया था कि ये उनकी बेटी सूफिया परवीन का है. उन्होंने बताया कि सूफिया परवीन ने 10 महीने पहले लव मैरिज की थी. लेकिन पिछले एक साल से दोनों के बीच झगड़ा चल रहा था. बेलाल एक साल पहले जेल गया था. आरोपी को शक था कि सूफिया ने ही उसे जेल भिजवाया है.

बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट नहीं दर्ज करवाई थी परिजनों ने :

सूफिया परवीन के परिजनों ने बेटी के गायब होने के बावजूद लंबे समय तक बेटी की कोई खोज खबर नहीं की. उनकी बेटी का किसी और के साथ प्रेम संबंध भी था, जिसे लेकर बिलाल और उनकी बेटी के बीच अक्सर झगडे हुआ करते थे. उन्होंने बेटी की हरकतों को देखते हुए खुद को बेटी से पूरी तरह से अलग कर रखा था. इसीलिए बेटी की गुमशुदगी के बावजूद लंबे समय तक परिजनों ने बेटी की गुमशुदगी की कोई रिपोर्ट तक दर्ज नहीं कराई.

source

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button