Headlinesझारखंड

जर्जर मंदिर भी किसी शख्स का जोह रहा था बाट तीन सौ वर्ष पुराना मंदिर का हुआ जीर्णोद्धार मंदिर का जीर्णोद्धार कर सुंदरता का बनाया गया नमूना धरोहर के रूप में जाना जाता है यह मंदिर

जर्जर मंदिर भी किसी शख्स का जोह रहा था बाट तीन सौ वर्ष पुराना मंदिर का हुआ जीर्णोद्धार मंदिर का जीर्णोद्धार कर सुंदरता का बनाया गया नमूना धरोहर के रूप में जाना जाता है यह मंदिर

गढ़वा : यह मंदिर तकरीबन 300 वर्ष पुराना है। हालाकि यह जर्जर स्थिति में पड़ा था। किसी का नजर इस उद्देश्य से नहीं पड़ा कि धरोहर के रूप में वर्षों से प्राप्त इस मंदिर को बचाया जाय।

शायद यह मंदिर भी किसी का बाट ही जोह रहा था कि कोई ऐसा सख्श हो, जो जीर्णोद्धार करे। ऐसा हुआ भी, किन्तु यह जानने से पूर्व बता दें कि तकरीबन 14 माह पूर्व की ही बात है की इसी मंदिर से अष्टधातु से निर्मित बेशकीमती तीन मूर्तियों को अज्ञात चोरों द्वारा चोरी कर ली गयी थी।

तीनों में- राम, लक्ष्मण व जानकी की मूर्तियां शामिल थीं।

जर्जर मंदिर
जर्जर मंदिर

हालाकि पुलिस अब तक भी मूर्तियों को ढूंढ निकालने में असफल रही।

जी हां, मैं बात कर रहा हूँ कांडी प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत ग्रामपंचायत- खरौंधा में स्थित विजय राघव मंदिर की।

यहां के लोगों द्वारा इस मंदिर को धरोहर के रूप में जाना जाता है।

उक्त मंदिर के जीर्णोद्धार हेतु मुखिया प्रतिनिधि- मुन्ना ठाकुर के नेतृत्व में

एक कमिटी गठित कर ग्रामीणों के सहयोग से मंदिर का जीर्णोद्धार पूर्ण हुआ।

मुन्ना ठाकुर ने बताया कि इस मंदिर के जीर्णोद्धार में अपनी जेब से 5 लाख रुपए का सहयोग प्रदान किया हूँ।

उन्होंने बताया कि इस मंदिर का बाउंड्री कराने व नई मूर्तियों को लाकर,

शुभ मुहूर्त में स्थापित करने सहित अन्य कई कार्य भी शेष रह गए हैं।

उन्होंने कांडी प्रखण्ड के सभी लोगों से भी आशा किया है कि अ

धिक से अधिक लोग चंदा स्वरूप दान प्रदान कर पुण्य के भागी बनें। वहीं ग्रामीणों ने भी चंदा देकर भरपूर सहयोग किया है।

साथ ही आगे भी सहयोग करने के लिए लोगों ने कहा।

मंदिर के गर्भ गृह में भगवान स्थापित स्थल से लेकर भीतर से

चारों ओर व बाहर से भी चारों ओर रँगरोहन कर सुंदरता का नमूना बनाया गया है।

यह मंदिर इतना सुंदर लगने लगा कि हर भक्त को भगवान से न

सही किन्तु सुंदरता का अवलोकन करने को दिल अवश्य चाहेगा।

खाश बात तो यह कि मंदिर के आगे प्राचीन द्वार आज भी बरकरार है, और

जिसे अब निर्माण कराना असम्भव है।

इस द्वारा में कलाकारी के सभी गुण विद्यमान हैं।  इस द्वार को भी मरम्मत करवाकर रँगरोहन कर सुंदर बनाया जाएगा।

कोरोना काल को देखते हुए जीर्णोद्धार के लिए गठित कमिटी के सदस्य गण व सहयोगी कर्ता शोसल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क लगाकर उपस्थित थे।

 

ये भी पढ़ें – सीएम शिवराज के स्वस्थ होने की कामना:उमा भारती ने सीएम के अच्छे स्वास्थ्य के लिए पूजा-अर्चना की, बोलीं- उपचुनाव में भाजपा सभी सीटें जीतेगी

ये भी पढ़ें – एमपी बोर्ड : आज दोपहर तीन बजे घोषित होगा 12वीं का परीक्षा परिणाम

संवाददाता- विवेक चौबे

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: