खेलHeadlines

भारत-साउथ अफ्रीका सीरीज को लेकर सामने आई बड़ी खबर, BCCI के इस प्लान से खुश होंगे खिलाड़ी!

उसमें रमें हैं. जमे हैं. लेकिन, जैसे ही उन्हें इस लीग से छुट्टी मिलेगी, वो अपने घर में, अपने मैदान पर साउथ अफ्रीका (South Africa) की चुनौती का सामना करते दिखे.

टीम इंडिया (Team India) के खिलाड़ी इन दिनों IPL 2022 में खेल रहे हैं.

उसमें रमें हैं. जमे हैं. लेकिन, जैसे ही उन्हें इस लीग से छुट्टी मिलेगी, वो अपने घर में, अपने मैदान पर साउथ अफ्रीका (South Africa) की चुनौती का सामना करते दिखे. साउथ अफ्रीका के भी कई खिलाड़ी IPL में खेल रहे हैं. ऐसे में उन्हें भारत के माहौल में ढलने में परेशानी नहीं होगी. खैर यहां बात भारत- साउथ अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच होने वाली इस सीरीज से जुड़ी एक बड़ी खबर की. खबर BCCI के प्लान को लेकर है, जो अगर अमल में आता है तो भारतीय खिलाड़ियों के चेहरे खुशी के मारे खिल उठेंगे. फिलहाल इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं है. लेकिन जब बात उड़ी है तो दम तो होगा ही.

बायो-बबल. कोरोना ने जब से दस्तक दी है. ये शब्द चलन में है. दुनिया के किसी भी खेल के साथ बायो-बबल कोरोना की ढाल बनकर चिपका है. हर सीरीज, हर टूर्नामेंट के लिए अलग बायोबबल और ये बात क्रिकेट में भी लागू होती है. BCCI का प्लान भी बायो-बबल से जुड़ा है.

साउथ अफ्रीका से सीरीज में बायो-बबल से छुटकारा

BCCI के एक सीनियर अधिकारी ने PTI से बातचीत में कहा है, ” अगर सभी चीजें सही चली, हमारे कंट्रोल में रही, जैसा कि अभी है तो साउथ अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज के दौरान बायो-बबल और हार्ड क्वारंटीन से खिलाड़ियों को छूट रहेगी.” IPL 2022 के दौरान भी खिलाड़ी बायो-बबल का हिस्सा हैं. ऐसे में BCCI ये नहीं चाहती कि 29 मई को लीग के खत्म होने के बाद खिलाड़ियों को फिर से एक और क्वारंटीन में रहना पड़े.

खिलाड़ियों का ख्याल रखते हुए बोर्ड का बड़ा कदम!

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 5 टी20 मैचों की सीरीज 9 से 19 जून के बीच 5 शहरों- दिल्ली, कटक, वाइजैग, राजकोट और बेंगलुरु में खेला जाएगा. BCCI के अधिकारी ने कहा कि इस सीरीज के बाद टीम को इंग्लैंड का दौरान करना है. और वहां भी बायो-बबल में छूट रहेगी. उन्होंने कहा कि, ” बोर्ड को भी ये पता है कि खिलाड़ियों के लिए बबल में लंबे समय तक रहना कितना मुश्किल है. इसका असर उनकी मानसिक स्थिति पर पड़ता है.” इंग्लैंड में अब किसी भी स्पोर्टिंग इवेंट में बायो-बबल नहीं है. ऐसे में भारतीय टीम को भी वहां पहुंचने पर खुला वातावरण मिलेगा. भारतीय टीम को इंग्लैंड दौरे पर एक टेस्ट के अलावा 6 मैचों की व्हाइट बॉल सीरीज खेलनी है. भारत का इंग्लैंड दौरा जुलाई में होगा.

BCCI अधिकारी ने PTI को बताया कि साउथ अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज में खिलाड़ियों के लिए बायो-बबल नहीं रहेगा पर उनका कोरोना टेस्ट रेग्यूलर इंटरवल पर होता रहेगा, ताकि ये पता लगाया जा सके कि उनके बीच टीम में कोई खिलाड़ी या स्टाफ कोरोना पॉजिटिव तो नहीं है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: