Headlinesट्रेंडिंगराष्ट्रीय ख़बरें

कहीं बह गई कार तो कहीं घरों में घुसा पानी…भारी बारिश के बाद हैदराबाद में ‘जल प्रलय’ का खौफनाक मंजर,

कहीं बह गई कार तो कहीं घरों में घुसा पानी...भारी बारिश के बाद हैदराबाद में 'जल प्रलय' का खौफनाक मंजर,

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में भारी बारिश की वजह से जल प्रलय जैसे हालात देखने को मिले। हैदराबाद और आसपास के इलाकों में लगातार हो रही बारिश से चारों तरफ जल सैलाब सा मंजर देखने को मिल रहा है। घुटनों से अधिक तक सड़कों पर पानी है और इसकी रफ्तार इतनी तेज है कि कार-बाइक तक बह जा रहे हैं। सड़कों पर लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। लोगों के घरों में पानी घुस गया है। कुल मिलाकर शहर की स्थिति पूरी तरह से खराब हो चुकी है। बारिश के बाद जलजमाव का आलम यह है कि मुख्य मार्ग पर कमर तक पानी भर गया है और गाड़ियां पूरी तरह से डूब गई हैं।

हैदराबाद समेत तेलंगाना के अन्य इलाकों में हुई बारिश के बाद भारी तबाही से निपटने के लिए राहत और बचाव का काम हो रहा है। मुख्यमंत्री ने सभी जिला प्रशासन को राज्य में भारी बारिश की वजह से अलर्ट रहने को कहा है। हैदराबाद और कई अन्य इलाकों में पिछले 24 घंटे में 20 सेमी बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा, कई अप्रिय घटना की सूचना भी मिली है। फिलहाल, जान माल की क्षति का आंकड़ा सामने नहीं आया है।

महज 24 घंटे की भारी बारिश ने हैदराबाद को पूरी तरह से डूबा दिया है और चारों तरफ बाढ़ जैसी भयावह स्थिति देखने को मिल रही है। यहां बारिश के बाद बने खौफनाक मंजर का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सड़कों पर बोट चलने लगे हैं। भारी बारिश के चलते अलग-अलग जगहों पर फंसे लोगों को निकालने के लिए राहत और बचाव की टीम बोट का इस्तेमाल कर रही है। राज्य की आपदा राहत फोर्स और फायर सर्विस टीम ने टोली चौकी इलाके में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर लोगों को बाहर निकाला।

समाचार एजेंसी एएनआई ने इसके कई वीडियो और फोटोज जारी किए हैं, जिसमें हैदराबाद में बारिश की भयावहता को देखा जा सकता है। रात के अंधेरे में भी राहत और बचाव की टीम बोट लेकर लोगों को सुरक्षित निकालती दिखी। इसके अलावा, कई जगहों पर पानी का बहाव इतना तेज था कि गाड़ियां भी पानी के साथ बहती दिखीं। हैदराबाद के दम्मईगुडा इलाके में भी ऐसा ही नजारा देखने को मिला।

source by :https://www.livehindustan.com/

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button