Headlinesक्राइमझारखंड

सड़क हादसे के 17 घंटे बाद पुलिस को मिला शव : परिजनों ने पोस्टमॉर्टम करवाने से किया इंकार, घायल ने भी अस्पताल जाने से किया मना; काफी मशक्कत के बाद पुलिस को मिली सफलता

सड़क हादसे के 17 घंटे बाद पुलिस को मिला शव : परिजनों ने पोस्टमॉर्टम करवाने से किया इंकार, घायल ने भी अस्पताल जाने से किया मना; काफी मशक्कत के बाद पुलिस को मिली सफलता

चाईबासा विगत मंगलवार की दोपहर 3 बजे के बाद मनोहरपुर थाना के जोजोगुटू के पास जवाबेड़ा में सड़क हादसे में जोजोगुटू निवासी रामाय गुड़िया (22) की मौत हो गई। हालांकि शव बरामद करने में पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी है। हालत यह थी कि हादसे में घायल गांव के ही बुधलाल सिरका (21) ने भी इलाज के लिए अस्पताल आने से पुलिस को साफ मना कर दिया। घटना के करीबन 16-17 घंटे बाद बुधवार को पुलिस शव को बरामद कर न सिर्फ उसे पोस्टमाॅर्टम के लिए चक्रधरपुर भेजने में सफल हुई। बल्कि घायल को इलाज के लिए मनोहरपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर आई। अब पुलिस इस मामले में आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

क्या है मामला
दरअसल, रामाय गुड़िया और बुधला सिरका बाइक में तेल भराने के लिए जवाबेड़ा चौक जा रहे थे। इसी दौरान तेज रफ्तार बाइक आम के एक पेड़ से जा टकराई। इस हादसे में रामाय की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बुधलाल बेहोश हो गया। होश आने पर बुधलाल ने हादसे की जानकारी परिजनों को दी। इसके बाद रामाय के परिजन उसके शव को लेकर अपने घर आ गए। घायल बुधलाल भी अपने घर चला गया।

घायल झाड़फूंक से कराना चाहता था
इधर, इसकी सूचना मनोहरपुर पुलिस को मिली। पुलिस घटनास्थल पर मंगलवार शाम को पहुंची। पर पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला। उसके बाद पुलिस ने अपनी पड़ताल जारी रखी। तब जाकर बुधवार को पुलिस को मृतक व घायल के बारे में पता चला। उसके बाद पुलिस मृतक के घर गई। लेकिन मृतक के परिजनों ने पोस्टमाॅर्टम कराने से इंकार करते हुए पुलिस को शव देने से मना कर दिया। वहीं, घायल बुधलाल ने भी इलाज के लिए अस्पताल जाने से मना कर दिया। उसने कहा कि वह अपना इलाज झाड़फूंक के जरिये कराना चाहता है। इसके बाद ग्रामीणों व पुलिस द्वारा काफी समझाने के बाद दोनों के परिजन तैयार हुए। बुधलाल के दाएं जांघ की हड्डी टूट गई है। उसे रेफर कर दिया गया है।

source

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: