Headlinesमहाराष्ट्र

मुंबई में भारी बारिश का अलर्ट, हाईटाइड का भी खतरा, दिल्ली में इस दिन मिलेगी गर्मी से राहत, जानें बिहार-झारखंड-यूपी सहित अन्य राज्यों के मौसम का हाल

मुंबई में भारी बारिश का अलर्ट, हाईटाइड का भी खतरा, दिल्ली में इस दिन मिलेगी गर्मी से राहत, जानें बिहार-झारखंड-यूपी सहित अन्य राज्यों के मौसम का हाल

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में आज अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है. सुबह साढ़े आठ बजे तक सापेक्षिक आर्द्रता का स्तर 47 प्रतिशत दर्ज किया गया. मौसम विज्ञानियों ने दिन में तेज हवा चलने का अनुमान जताया है. दिल्ली में बृहस्पतिवार सुबह हवा की गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई.

मौसम विभाग ने कहा है कि अगले दो से तीन दिनों के अंदर मॉनसून की बारिश हो सकती है. इस दौरान झारखंड में बिजली गिरने और वज्रपात की भी संभावना है. इसको देखते हुए लोगों को सतर्क रहने को कहा गया है. इससे बचने के उपाय भी बताये गये.

दिल्ली में बृहस्पतिवार सुबह भी गर्मी का प्रकोप बना रहा और न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 31.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मुंबई में भारी बारिश के बीच समुद्र में हाईटाइड आने की संभावना है. इस दौरान 4 से 5 मीटर तक लहरें उठ सकती हैं. यदि भारी बारिश जारी रही तो शहर के निचले इलाके पानी में डूब सकते हैं.

अगले 48 घंटे में पूरे बिहार में तेज हवा के साथ बारिश और वज्रपात होने की आशंका है. दरअसल, बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती सिस्टम के चलते बिहार में मॉनसून पूर्व अच्छी-खासी बारिश के संकेत हैं.

कारोबारी नगरी मुंबई में मुसीबत वाला मॉनसून पहुंच चुका है. यहां के हिन्दमाता इलाके की सड़क पर इतना पानी भर गया कि सड़कें नजर ही नहीं आ रही थीं. पानी की वजह से वाहनों की रफ्तार रुक चुकी है. आज मुंबई सहित महाराष्ट्र के तटों पर भारी बारिश होने की संभावना है.

बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र नजर आ है जिसकी वजह से आज बंगाल, झारखंड, उड़ीसा, छत्तीसगढ़, तेलांगना, विदर्भ व पूर्वी मध्य प्रदेश में भी भारी बारिश होने की आशंका है. अगले दो-तीन दिन में मानसून मध्य व पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में तेजी से आगे बढ़ सकता है.

स्काईमेट वेदर के अनुसार तटीय कर्नाटक में आज भारी बारिश जारी रहेगी. इसके अलावा गोवा, मुंबई में भी मानसून की अति भारी देखने को मिलेगी. 11 से 13 तारीख तक झारखंड, बिहार, बंगाल, ओडिशा, छत्तीसगढ़, पूर्वी उत्तर प्रदेश और पूर्वी मध्य प्रदेश तक मानसून पहुंच जायेगा और इन स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश देखने को मिलेगी.

महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र में 11 जून से 15 जून के बीच भारी से अत्यधिक भारी बारिश की भारत मौसम विज्ञान विभाग की चेतावनी के मद्देनजर राज्य सरकार ने बुधवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) से पांच तटीय जिलों में 12 टीमें भेजने का अनुरोध किया.

महाराष्ट्र आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने एनडीआरएफ के कमांडेंट से 10 जून की दोपहर तक ठाणे, रायगढ़, पालघर, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों में टीम तैनात करने का अनुरोध किया. पालघर के जिलाधिकारी माणिक गुरसाल ने एनडीआरएफ के साथ आधिकारिक संवाद में कहा कि प्राधिकरण ने रत्नागिरी जिले में एनडीआरएफ की चार टीम और अन्य जिलों में दो-दो टीम तैनात किए जाने का अनुरोध किया है.

बंगाल की खाड़ी के उत्तर में 11 जून को कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना के कारण पश्चिम बंगाल में कई स्थानों पर बारिश हो सकती है और गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं.

उत्तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से पड़ रही भीषण गर्मी से आने वाले दिनों में राहत मिलने की उम्मीद है. मौसम विभाग के मुताबिक इस सप्ताह के अंत में राज्य के अनेक हिस्सों में मानसूनपूर्व वर्षा होने की संभावना है.

बंगाल की खाड़ी में बन रहे निम्न दबाव से सप्ताहांत में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश हो सकती है, जिससे तापमान और प्रदूषण के स्तर के दोनों कम होने की संभावना है. वहीं दिल्ली में बुधवार को इस साल का सर्वाधिक 31.4 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: